Blogging

Blog और vlog में क्या अन्तर हैं?? Which one is better? आओ जानें।

Blog और vlog शब्द तो आपने सुने ही होंगे! Internet की इस दुनिया में आधे से ज्यादा data blog और vlog में ही निहित हैं! आज हम जानते हैं कि blogging और vlogging में क्या अंतर होता हैं! इनमें से किस पर कार्य करना आने वाले भविष्य में ज्यादा लाभदायक साबित होगा! Blog और vlog मैं अंतर जाने से पहले यह जान लेते हैं कि ये होते क्या है!

Blog क्या होता हैं?

1994 में जब justin hall blog शुरू हुआ था तब यह केवल personal dairy के जैसे था जिसमें लोग अपना दैनिक रूटीन लिखते थे! या अपनी पसंदीदा लेख लिखकर संजोते थे! फर्क़ इतना सा था कि यह Online था!

blog शब्द 1999 में निकलकर आया था जो peter merholz ने दिया था! पहले इसे “WEBLOG” नाम से जानते थे! Weblog means ” logging the web“.

लेकिन जैसे -जैसे लोगों को इसमें opportunity दिखने लगी वैसे-वैसे यह information sharing का एक नया तरीका बन गया!

Blog की परिभाषा

एक ऐसा plateform जिस पर एक या अधिक writer अपने विचार अभिव्यक्त करते हैं, discussion करते हैं! यहाँ पर post reverse chronological order में display होती हैं! अर्थात्‌ नवीनतम post सबसे ऊपर दिखाई देती हैं!

reverse chronological order in hindi

इसका शाब्दिक अर्थ होता हैं- कालानुक्रमिक के विपरीत अर्थात्‌ जो post पहले publish वह सबसे नीचे फिर उसके बाद publish होने वाली उसके ऊपर तथा जो latest publish हुई वह सबसे ऊपर दिखाई देगी!

इसकी संरचना कुछ इस प्रकार हैं⬇️

Blogging

Header– इसमें menu एवं navigation bar आता हैं!

Main content- यहां पर blog की posts प्रदर्शित होती है! Latest postसबसे ऊपर प्रदर्शित होती है तथा उससे पहले की पोस्ट नीचे प्रदर्शित होती हैं!

Side bar- यहां पर search box, contact us , related posts प्रदर्शित होते हैं!

Footer– इसमें copyright, privacy policy, disclaimer, theme name आदि प्रदर्शित होता हैं!

Blogging क्या हैं?

साधारण भाषा में कहे तो blog को चलाना ही blogging कहलाता हैं! चलाने से आशय हैं blog में post डालना, blog को update रखना, content share करना आदि!

Blogger क्या हैं?

Short में blogging करने वाले को blogger कहते हैं! यह blog का मालिक होता हैं! वह स्वयं या इसके द्वारा नियुक्त किए गए Author इस blog में post publish करते हैं!

Types of blog in hindi

Micro blogging in hindi

Microblogging blogging का ही एक छोटा रूप है जिसमें एक niche को लेकर domain registered किया जाता है और उसी पर detail में पोस्ट बनाई जाती हैं!

  • Niche meaning in hindi

यह एक job, position, place हैं जो किसी के एक रुचि क्षेत्र को दर्शाता हैं! यह उस व्यक्ति के लिए अन्य व्यक्तियों से भिन्न होता हैं! आम बोलचाल की भाषा में niche को हम” क्षेत्र या प्रकार” कह सकते हैं! हालांकि ‘क्षेत्र या प्रकार’ niche का एकदम सही अर्थ नहीं हैं!  जैसे कोई पूछे कि आप किस प्रकार की ब्लॉगिंग करते हैं तो किसी का उत्तर हो मैं tech blog, किसी का food blog, किसी का Religious blog आदि!

उदाहरण के लिए- हमें लगता है कि Good morning sms बहुत से लोग सर्च करते हैं तो इस पर microblogging करनी चाहिए तो हमें domain Goodmorningsms. नाम से ही register करना होगा!

Domain register करने के लिए आप blogger, godaddy ,bigrock या किसी अन्य website का प्रयोग कर सकते हैं जो Domain provide करवाते हैं! अगर आप blogger domain register करते हैं तो आपको केवल hosting खरीदनी होगी,  domain free में register हो जाता हैं! और अगर आप CMS के रूप में WORDPRESS का प्रयोग करना चाहते हैं तो आप को hosting + DOMAIN दोनो खरीदना होगा! HOSTING के लिए bluehost, hostgator आदि websites हैं!

Microblogging में post किस प्रकार बनाए?

Post बनाने से पहले आपकों high quality की good morning images (उदाहरण) बनानी होगी! जो दिखने में आकर्षक लगे! यहां ध्यान देने योग्य बात यह है कि आपके द्वारा उपयोग में ली गई सभी images Copyright free होनी चाहिए!

Copyright क्या हैं और Copyright free images बनाने का तरीका जानने के लिए यहाँ क्लिक करें ।

Step by Step post बनाने की जानकारी के लिए निम्न video की सहायता ले सकते हैं ⬇️

Niche blogging in hindi

आसान भाषा में कहें तो एक blog में बहुत सारे topics पर लिखने के बजाय एक ही topic पर लिखना niche blogging कहलाता हैं! उस niche विशेष के बारे मे ही research की हुई post publish करना! Niche blogging अपने interest, hobby के अनुसार चयन करना चाहिए! जिसे आप आगे तक ले जा सकते हो!

Popular niche blogs

Health blog- इस blog में केवल health related post ही publish लिए जाते हैं! क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए, कैसें खाना चाहिए के बारें में बताया जाता हैं!

Religious blog – यहाँ पर धार्मिक चीज़ों, पुस्तकों के बारे में ही बताया जाता हैं!

Cooking blog- कुकिंग से संबंधित recipes का वर्णन किया जाता हैं!

Fitness blog – शरीर को फिट रखने के लिए किस प्रकार की दिनचर्या की आवश्यकता होती हैं! क्या excercises करनी चाहिए और कैसे करनी चाहिए के बारें में लिखा जाता हैं!

Tech blog – इस प्रकार के blog में technical content display किया जाता हैं! Technologies news, Apps , development आदि!

और भी कई popular blog niche हैं!

Event blogging in hindi

किसी Event के लिए blog बनाना , जिसमें केवल उसी Event के बारें में post बनाए जाते हैं! उदाहरण के लिए – IPL के लिए Blog बनाना! इस blog का domain name भी आईपीएल शब्द के इर्द-गिर्द ही होता है! Blog में केवल ipl से संबंधित जानकारी ही डाली जाती हैं! जब तक IPL का season चलता है ये Event blogging से खूब छाप लेते हैं!

Vlogging blogging की होड़ नहीं कर सकता जाने क्यूँ?

इंसान के समझने के दृष्टिकोण से भले ही vlogging बहुत अच्छा माना जाता है लेकिन गूगल video को पढ़ नहीं सकता! इसलिए जब भी google पर Ranking की बात आती है तब वीडियो पिछड़ जाता है! अगर videos को upper Ranking में लाना है तो आपको video के साथ -साथ वीडियो से संबंधित description भी लिखना होगा! ताकि गूगल इसे पढ़कर समझ सके कि इस वीडियो में क्या content रखा है! वह इसे पढ़कर search engine में प्रदर्शित करें!

Vlogging in hindi

Vlogging शब्द “VIDEO + BLOGGING” से बना हैं! इससे सीधा पता चलता हैं कि सभी प्रकार के video blog vlog में आते हैं! 2005 में जब YOUTUBE आया तब vlogging में एक दम उछाल आया! YouTube के माध्यम से लोगों तक video content पहुंचाना आसान हो गया था! India की बात करें तो vlog का सबसे ज्यादा प्रचलन jio sim card आने के बाद बढ़ा हैं!

Which one is better blog or vlog?

यहां हम तीन ऐसी चीजों के बारे में बात करने जा रहे हैं जिनको पढ़कर आप समझ जाएंगे कि blogging सही है या vlogging. आइए जानते हैं-

Your Personal qualities-

Blogging or vlogging आपकी Personal qualities पर निर्भर करता हैं! कुछ लोग जन्म से ही लिखने के बहुत शौकीन होते हैं ! वे अपने विचारों को बचपन से ही डायरी में लिखते रहते हैं! ऐसे लोगों के लिए blogging बहुत ही अच्छा हैं! इस के माध्यम से विचारों को बहुत अच्छे तरीके से अभिव्यक्त कर सकते हैं! इसके विपरीत जिन लोगों का लिखने के बजाय presentation में ज्यादा रूचि होती है वे लोग vlogging के लिए जा सकते हैं! लेकिन आप लोगों में से अधिकांश लोग ऐसे होंगे जिनको camera से डर लगता है वह camera के सामने fluently नहीं बोल पाते हैं ! या video editing को बोझ समझते हैं ऐसे लोगों के लिए भी blogging बहुत अच्छा option हैं!

Audience

आपको blogging करनी चाहिए या vlogging यह audiences पर भी निर्भर करता है! क्यों कि जिस niche पर आप कार्य कर रहे हैं वह niche अधिक उम्र वाले लोगों के लिए है या नौजवानों के लिए है! सामान्यतः यह देखा जाता है कि अधिक उम्र वाले लोग blog पढ़ना ज्यादा पसन्द करते हैं जबकि नौजवान vlog देखना ज्यादा पसन्द करते हैं! तो आपको अपने topics के दृष्टिकोण से यह decide करना होगा कि आपके audiences किस प्रकार के रहेंगे!

Resources ( संसाधन)

Blogging आप सीमित संसाधनों के साथ शुरू कर सकते हैं! इसके लिए आपके पास एक मोबाइल फोन होना चाहिए और लिखने के लिए विचार। इतना ही काफी है! लेकिन vlogging के लिए आपको अधिक संसाधनों की आवश्यकता होती है! इसकी शुरुआत लिए आपके पास camera होना चाहिए, shooting करने के लिए voice free environment होना चाहिए तथा video editing के लिए अच्छा सा लैपटॉप होना चाहिए! हालांकि आप मोबाइल फोन से भी वीडियो रिकॉर्ड कर सकते हैं लेकिन vlogging को next level तक ले जाने के लिए अच्छी क्वालिटी के videos बनाना जरूरी है!

इन सभी चीजों में अधिक समय की आवश्यकता होती है! मेरे कहने का आशय यह नहीं है कि vlogging बुरी है लेकिन यहां पर हम इनके संसाधनो बारे में बात कर रहे हैं इसलिए बता रहा हूं! यदि आपके पास पर्याप्त संसाधन हैं और आप camera face करने से भी घबराते नहीं है तो जरूर आपको vlogging करनी चाहिए! क्योंकि आजकल written content के बजाए video content ज्यादा देखा जा रहा हैं!

Conclusion blogging or vlogging

दोस्तों अब आपको समझ आ गया होगा कि आपकों blogging करनी चाहिए या vlogging. क्योंकि यह सभी इस बात पर निर्भर करता है कि आपके पास ऑडियंस , संसाधन है और quality किस प्रकार की हैं! यदि आप लिखने के शौकीन हैं तो आपको blogging करना चाहिए! यदि आपके पास संसाधनों की कमी नहीं है तथा आप camera face करने से भी नहीं घबराते हैं तो जरूर ही आपको vlogging करनी चाहिए!

My opinion ( मेरी राय)

अगर आप मेरी राय जानना चाहते हैं तो मैं यही कहूंगा कि आप blogging के साथ-साथ vlogging भी करना सीखें! दोनों को एक दूसरे से तालमेल बिठा कर आगे बढ़े! निश्चित रूप से ही आपको सफलता हासिल होगी! क्योंकि blog में वीडियो की आवश्यकता होती है! इसलिए यदि आप किसी topic पर post लिख रहे हैं तो उसी topic पर एक वीडियो भी बना लीजिए ताकि पढ़ने वाले को topic अच्छे से समझ आ जाए!

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.