NPS

NPS की सच्चाईयां जानकर चौंक जाओगे। आइए जानतें हैं, All about NPS

दोस्तों! आपने NPS के बारें में तो सुना ही होगा! यदि आप सरकारी कर्मचारी हैं तो NPS के बारें में अच्छे से जानते ही होंगें ! एनपीएस का फुल फॉर्म होता हैं- NATIONAL PENSION SCHEME. यह एक पेंशन सिस्टम बताया जाता हैं! जिसमें मंथली कुछ AMOUNT डाला जाता हैं और कुछ सरकार की तरफ़ से मिलाया जाता हैं।

हमें NPS के बारें मे मोटे तौर पर यही जानकारी रहती हैं! लेकिन इसके अलावा भी NPS बहुत कुछ हैं जो आपको पता नहीं है!

आइए आज हम एनपीएस के बारें में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करतें हैं और यह भी समझने की कोशिश करेंगे की क्या एनपीएस वास्तव मे ही अपने लिये लाभदायक हैं या नहीं।

चलिए शुरु करते हैं।

1. क्या NPS वास्तव में एक पेंशन योजना हैं?

दोस्तों! एनपीएस में अमाउंट collect किया जाता हैं! जिसमें कर्मचारियो के अकाउंट्स से हर महीने सैलरी का 10 प्रतिशत ऐड किया जाता हैं और 10 प्रतिशत ही state Government की तरफ़ से ऐड किया जाता हैं!

एनपीएस केवल धन इकट्टा करने की हो योजना हैं।

आपकी सेवानिवृत्ति के समय NPS की तरफ़ से आपको एक वार्षिक प्लान खरीदना होता हैं, जिसमें आपके जमा हुए धन का ही इस्तेमाल किया जाता हैं! इसलिए ही इसको पेंशन का नाम दिया है! ‘एनपीएस’ को आप पेंशन सिस्टम कहने की बजाए” बीमा कम्पनी” नाम से सम्बोधित करोगे तो ज्यादा सार्थक नाम होगा!

सेवानिवृत्ति के बाद आपकी पेंशन का बन्दोबस्त ये बीमा कम्पनी ही करेगी।

आपको बता दे कि बीमा कंपनी का मेनेजर अपने अमाउंट को इस तरह निवेश करेगा कि उस कम्पनी को अधिक से अधिक लाभ हो! उस कम्पनी के लाभ के चक्कर मे कर्मचारियों को कितना नुकसान होगा! इसकी फिक्र मेनेजर को क्यों होगी!

NPS में RETURN की कोई गारंटी नहीं।

एनपीएस में कर्मचारियो के धन के रिटर्न की कोई गारंटी नहीं होती हैं! अगर बीमा कंपनी को प्रॉफिट होता हैं तो आपको भी प्रॉफिट हो सकता हैं और बीमा कंपनी को नुकसान हुआ हैं तो निश्चित रूप से आपको भी नुकसान होगा।

इस प्रकार जो धन हमनें इन्वेस्ट किया हैं, जरुरी नहीं हैं कि उतना धन भी अपने को वापस मिल जायेगा।

आपकी सेवानिवृत्ति तक इस अकाउंट में धन जमा होता रहता हैं! सेवानिवृत्ति के समय आपकों जमा राशि का कम से कम 40% हिस्से का वार्षिक प्लान खरीदना होगा। तथा शेष को एक या अधिकतम 10 किस्तो में निकलना होगा।

2• क्या NPS में जमा हुए धन पर ब्याज मिलता हैं?

दोस्तों! इसमें जमा किये हुये धन की ही कोई गारंटी नहीं हैं कि वो वापस मिल जाए, ब्याज की तो बात ही नहीं हैं! NPS में जमा धन पर किसी भी प्रकार का ब्याज देय नहीं हैं।

3. क्या एक सर्विस छोड़कर दुसरी सर्विस में जाने पर दूसरा NPS अकाउंट खोलना पड़ता हैं?

नहीं। जब एक सर्विस से दूसरे सर्विस में जाते हैं तो nps अकाउंट को shift कर दिया जाता हैं।

एक व्यक्ति NPS के 2 अकाउंट नहीं खोल सकता हैं।

एक व्यक्ति NPS का एक ही अकाउंट खोल सकता हैं। NPS अकाउंट खोलते समय कर्मचारी को एक नम्बर मिलता हैं जिसे PRAN नम्बर कहते हैं! इसका फुल फॉर्म Permanent retirement account number होता हैं अर्थात् यह परमनेंट एक ही नंबर होता हैं।

NPS में दो अकाउंट होते हैं।

1. टियर-। 2. टियर।।

टियर-। वह अकाउंट होता हैं जिसमें कर्मचारी की पेंशन के लिए धन जमा होता हैं! इस अमाउंट को retirement के बाद या स्कीम से बाहर जाने पर ही निकाल सकते हो! यह अकाउंट अनिवार्य होता हैं।

टियर-2 वह अकाउंट होता हैं जो म्यूच्यूअल फंड की तरह होता हैं! लेकिन इस अकाउंट को वही ओपन कर सकता हैं जिसका टियर-1 अकाउंट खुला हुआ हो! इसमे आप अमाउंट जमा करो और जब जरूरत हो निकाल लो! यह अकाउंट सभी के लिए अनिवार्य नहीं होता हैं। इसे अपनी इच्छा से खोल सकते हैं!

4. NPS से retirement के बाद कितनी पेंशन मिलतीं हैं?

इसे जानने के लिए हम एक उदहारण लेते हैं-

माना कि आपके retirement के समय आपके nps अकाउंट में 50 लाख रुपये हैं। जैसा की आपको पता हैं! इस अमाउंट का अधिकतम 60% ,आप एक मुश्त या अधिकतम 10 किस्तो में निकाल सकतें हैं! तो आपको retirement के समय 50 लाख का 60%= 3000000 रुपये मिल जाएंगे !

अब बात करते हैं बाकी बचे 40% अमाउंट की जिसका आपको वार्षिक प्लान खरीदना होता हैं।

ध्यान रहें-

आपको न्युनतम 40% का वार्षिक प्लान खरीदना अनिवार्य हैं! आप सम्पूर्ण राशि का वार्षिक प्लान भी खरीद सकते हैं।

50 लाख का 40% = 2000000 रुपये ।

इस अमाउंट के बारें मे बताया गया हैं कि इसे आप वार्षिक प्लान के अनुसार पेंशन के रूप मे हर महीने या वार्षिक रूप (जो भी आपकों अच्छा लगे ) ले सकतें हैं!

इसी 40% अमाउंट से आपकी पेंशन स्कीम चलती हैं।

माना कि आपके retirement के समय वार्षिक प्लान रेट 6% चल रही हैं! और आप वार्षिक प्लान खरीदते हैं तो आपकी वार्षिक पेंशन इस प्रकार आयेगी-

2000000 का 6% = 120000 रुपये/ वर्ष और यदि आप महीने के हिसाब से लेना चाहे तो 120000÷12 = 10000 रूपये/महीना!

10000 रुपये प्रति महीना।

दोस्तों! 10000 प्रति महीना क्या मायने रखेगा! जिसमे कोई DA नही बढ़ने वाला हैं! हर रोज महंगाई बढ़ती जा रही हैं। क्या करेंगे 10000 रुपए लेकर।

साथियों आपको अवगत करा दू कि जिस प्रकार महंगाई बढ़ रही हैं, 2040 तक तो वृध्दावस्था पेंशन भी अपनी NPS पेंशन के आस- पास हो जायेगी।

Old pension scheme कई गुना बेहतर हैं NPS से।

OPS NPS
पुरानी पेंशन योजना
OPS
नई पेशन योजना (NPS) नो पेंशन योजना
1. OPS में GPF सुविधा उपलब्ध।1.NPS में पेंशन के लिए वेतन से 10%
(Basic+DA) की कटौती होती है।
2.OPS एक सुरक्षित पेंशन योजना है।2.NPS में GPF सुविधा उपलब्ध नहीं है।
3.OPS में रिटायरमेंट के समय निश्चित पेंशन
जो अतिम मूल वेतन के 50% की गारंटी है।
3. NPS शेयर बाजार आधारित असुरक्षित
योजना है।
4.OPS घर छ: माह बाद मिलने वाला महंगा
भत्ता (DA) लागू होता है।
4.NPS में रिटायरमेंट के समय निश्चित पेंशन
गारंटी नहीं हैं। हो सकता है पूरा पैसा ही डूब जाये
5. OPS के अंतर्गत प्राप्त पेंशन पर हर 10 वर्ष
पश्चात वेतन आयोग का लाभ प्राप्त होता है।
5. NPS पर छ: माह बाद मिलने वाला महंगाई
भत्ता (DA) लागू नहीं होगा।
6. OPS में रियायरमेंट के समय 20 लाख
तक रेज्युटी मिलती है।
6. NPS में हर 10 वर्ष
पश्चात वेतन आयोग का लाभ प्राप्त नहीं होगा।
7. OPS में सेवा के दौरान मृत्यु होने पर फेमिली पेंशन का प्रावधान
7. NPS में रिटायरमेंट के समय ग्रेज्युटी का अस्थाई प्रावधान
8. OPS में रिटायरमेंट पर GPF के व्याज पर
किसी प्रकार का इनकम टैक्स नहीं लगता।
8. NPS में शेयर बाजार के आधार पर भुगतान
किया जायेगा।
9. OPS के रिटायरमेंट के समय GPF फंड से
किसी प्रकार का इन्वेस्ट पेंशन के लिए नही
करना पड़ता।
9. NPS में रिटायरमेंट पर शेयर बाजार के आधार पर
जो धन मिलेगा उस पर इनकम टैक्स देना होगा।
10. OPS में 40% पेंशन कम्युटेशन का प्रावधान।10. NPS के रिटायरमेंट के समय NPF फंड से
40% इन्वेस्ट पेंशन के लिए करना पड़ेगा।
11. OPS में रिटायरमेंट के बाद मेडिकल
पैसिलिटी उपलब्ध होती है।
11. NPS में पेंशन कम्युटेशन का प्रावधान नहीं
12. OPS में पेशन के लिए वेतन से कोई कटौती
नहीं होती।
12. NPS में रिटायरमेंट के बाद मेडिकल
फैसिलिटी का स्पष्ट प्रावधान नहीं
13. OPS में सरकार द्वारा ट्रेजरी के माध्यम से
भुगतान किया जाता है
13. NPS में सेवा के दौरान मृत्यु होने पर फेमिली
पेंशन का अस्थाई प्रावधान है।

सारांश

साथियों अब आपकों समझ आ ही गया होगा कि NPS वास्तव में कौनसी योजना हैं!

आशा करता हूँ कि आपकों यह पोस्ट अच्छी लगी हो! एसी ही अच्छी अच्छी जानकारियो के लिए जुड़े रहिए हमारे ब्लॉग के साथ।

धन्यवाद। जय हिंद। जय भारत।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: